जो फिल्म पहिले पिटी, उस पर बजी दर्शकों की सीटी

3819

हर एक निर्देशक-निर्माता की यही तमन्ना होती है कि उसकी फिल्म ब्लॉकबस्टर हो और दर्शक उसे हमेशा याद रखे।  अगर किसी फिल्म को दर्शक सालों तक याद रखतें हैं तो  इससे अच्छी बात डॉयरेक्टर या स्टार के लिए हो हीं नहीं सकती। असल में फिल्म, डायरेक्टर और प्रोड्यूसर के लिए अपने बच्चे से कम नही होती है। फिल्म के लिए निर्देशक-निर्माता अपनी सारी पूंजी,मेहनत और वक़्त  दांव पर लगा देते हैं| इसी कारण फिल्म हिट या फ्लॉप होने का सबसे ज्यादा गहरा असर इन्ही को होता है।

आज हम आपको ऐसी ही फिल्मों के बारे में बताने जा रहे है जो बॉक्स ऑफिस पर उस समय कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाए, लेकिन आज भी लाखो लोगो की पसंद बनी हुई है।

 

 

 

शोले : “जो डर गया समजो मर गया।”

gabbar-1_072715032049

क्या आप विश्वास करेंगे कि शोले पहले फ्लॉप फिल्म में शामिल थी लेकिन फिर जो हुआ वो इतिहास है। आज भी शोले के किरदार सबके दिलो में छाए हुए है और शोले की बराबरी की फिल्म अब तक आई नहीं है।

 

मेरा नाम जोकर : “आदमी में दिल होता है… दिल में आदमी।”

1280x720-uBA

मेरा नाम जोकर 1970 में आई यह फिल्म राजकपूर की ड्रीम प्रोजेक्ट थी और उन्होंने इसमें अपना सबकुछ लगा दिया था। पहले तो फिल्म फ्लॉप हुई और उन्हें आर्थिक संकट भी हुआ लेकिन बाद में फिल्म इतनी हिट हुई की उनका ड्रीम पूरा हुवा।

 

उमराव जान : “तुझे देखा तो जागे अरमान।”

maxresdefault

उमराव जान में रेखा की खूबसूरती से लेकर अभिनय तक की तारीफ हुई। उनकी ड्रेस, डांस और कपड़ों को भी तारीफ हुई। ये फिल्म भी ऐतिहासिक फिल्म है लेकिन फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई। लेकिन फिल्म को 4 नेशनल अवार्ड मिले और ये एक मस्ट वॉच फिल्म बन गई।

 

सिलसिला : “जो जितना दूर हो उतना ही पास रहता है।”

500x500x6762-sislsila.jpg.pagespeed.ic.uV3ovSM3e2

सिलसिला लव ट्राएंगल पर बनी फिल्म जिसमें बेहतरीन गाने, खूबसूरत लोकेशन और अमिताभ-जया-रेखा की तिकड़ी थी। फिल्म भी शानदार थी लेकिन पहले दर्शकों ने इसे नाकारा था।

 

अंदाज अपना अपना : “आयला, जूही चावला!”

12aamir-birthday8

बॉलीवुड में कॉमेडी में एक अलग लेवल बना चुकी फिल्म अंदाज अपना अपना जिसमें आमिर खान और सलमान खान थे। फिल्म शुरूआत में बॉक्स ऑफिस पर कमाल नहीं दिखा पाई थी। लेकिन फिर भी फिल्म कभी भी आप देखने बैठें हंसी उतनी हीं आएगी जितनी सबसे पहली बार देखकर आई होगी।

 

प्यार का पंचनामा 2 : “असली प्यार तो माँ का प्यार ही होता है।”

_b6386a3a-73c1-11e5-9864-f322a89f42cf

आज के समय में प्यार और रिलेशन को एक अलग एंगल से दिखाए जानी वाली इस फिल्म में कोई बड़ा चेहरा नहीं था। फिल्म बहुत ज्यादा कमाल नहीं दिखा पाई लेकिन बाद में हर यूथ के लिए ये एक मस्टवॉच फिल्म बन गई।

Leave a Reply