किसी शख्स को नहीं बल्कि एक संस्था को मिला शांति का नोबेल पुरस्कार।

59

1

साल 2017 के शांति के नोबेल पुरस्कार का एलान हो गया है। इस साल का ये पुरस्कार किसी शख्स को नहीं बल्कि एक संस्था को दिया गया है। इंटरनेशनल कैंपेन टू अबॉलिश न्यूक्लियर वेपन (ICAN) संस्था को 2017 का शांति का नोबेल पुरस्कार मिला है। इस संस्था ने परमाणु हथियारों के खात्मे के अभियान में अहम रोल अदा किया है। और दुनियाभर में विनाशकारी हथियारों की दौड़ में मानवजाति के कल्याण के लिए सराहनीय काम किया है।

3

ICAN संस्था पिछले 10 सालों से वैश्विक स्तर पर परमाणु हथियारों पर बैन लगाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। नोबेल पुरस्कार मिलने से उत्साहित ICAN संस्था के ग्रुप हैड बीट्राइस फिन का कहना है कि हमने अभी और आगे जाना है। हमारा काम तब तक खत्म नहीं होगा, जबकि इस दुनिया से परमाणु हथियारों को पूरी तरह से खात्मा नहीं हो जाता है। ICAN यानि इंटरनेशनल कैंपेन टू अबॉलिश न्यूक्लियर वेपन एक वैश्विक सिविल सोसाइटी है, जो परमाणु निशस्त्रीकरण संधि को लागू करने की दिशा में काम कर रही है।

4

ICAN को 2007 में लॉन्च किया गया था और आज इसके 101 देशों में 468 साझेदार संगठन हैं। इसके फाउंडर लैंडमाइंस प्रतिबंध करने के अभियान से बेहद इंस्पायर थे और इसी तर्ज पर ICAN ने परमाणु हथियारों के खिलाफ अपना अभियान चलाया। इस संस्था की टीम जिनेवा और स्वीट्जरलैंड से अपने अभियान को आगे बढ़ाती है और अन्य देशों में सहयोगी संगठनों के जरिए काम करती है।

5

Leave a Reply