India के पेमेंट मार्केट में google के ऐप ‘तेज़’ ने मारी एंट्री।

0
181

main

टेक्नॉलॉजी दिग्गज गूगल ने भारत में यूपीआई बेस्ड मोबाइल पेमेंट ऐप ‘तेज़’ भारत में लॉन्च कर दिया है। इस ऐप को लॉन्च करने के चौबीस घंटों के अंदर ही 4 लाख से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया और इस दौरान इस पर कुल 1.8 करोड़ रुपये के लेन-देन दर्ज किए गए। और गूगल के 4,10,000 सक्रिय यूजर्स भी बन चुके हैं। यह ऐप ऐंड्रॉयड और iOS दोनों के लिए उपलब्ध है।

3

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा, “गूगल ने भारतीय अर्थव्यवस्था और व्यापार में महान क्षमता देखी है।” इसका जवाब देते हुए सुंदर पिचाई ने ट्वीट किया, “हम उम्मीद करते हैं ‘तेज बाई गूगल’ के लॉन्च से आपको डिजिटल इंडिया के दृष्टिकोण के एक कदम और करीब आने में मदद मिलेगी.” इस एप को भारत सरकार समर्थित यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) के आधार पर बनाया गया है।

2

‘तेज़’ एप भारत को ध्यान में रखकर बनाया गया है और अंग्रेजी और सात क्षेत्रीय भाषाओं में उपलब्ध है, जिसमें हिंदी, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मराठी, तमिल और तेलुगू शामिल है। ‘तेज़’ एप चार बैंकों की साझेदारी में काम करता है जिसमें एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और भारतीय स्टेट बैंक शामिल है। इसकी मदद से ऐप यूजर्स सीधे अपने बैंक अकाउंट से पेमेंट कर सकेंगे। इसके लिए अलग से कोई खाता खोलने की जरूरत नहीं होगी।

4

इसके अलावा इस ऐप में एक कैश मोड भी है, जिसकी मदद से कोई भी ‘तेज़’ यूजर आस-पास मौजूद दूसरे ‘तेज़’ यूजर को सीधे पैसे भेज सकेगा। इसके लिए किसी भी प्रकार की बैंक डीटेल या फोन नंबर शेयर करने की कोई जरूरत नहीं होगी। साथ ही ऐप में QR कोड स्कैन करके भी पेमेंट करने की सुविधा होगी। गूगल ने माइक्रोमैक्स, पैनासोनिक लावा और नोकिया जैसी कंपनियों को भी डिस्ट्रिब्यूशन पार्टनर बनाया है।

5

अन्य पेमेंट वॉलिट्स की तरह इसमें भी यूजर्स को स्क्रैच कार्ड्स, रेफरल रिवॉर्ड और लकी संडे लकी ड्रॉ जैसे ऑफर्स मिलेंगे। कंपनी ने यह भी कहा है कि दुकानदार अपने अकाउंट में डिजिटल पेमेंट लेने के लिए भी इसका उपयोग कर सकते हैं। 50,000 रुपये प्रति महीने की सीमा तक पैसे रिसीव करने के लिए कोई भी फीस नहीं ली जाएगी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY