हिमालय के गोदी में बसा शहर अल्मोड़ा|

4402

almora images (17)

अल्मोड़ा भारत के राज्य उत्तराखण्ड का महत्वपूर्ण शहर है। अल्मोड़ा सुन्दर आकर्षक और अद्भुत शहर है। अल्मोड़ा समुद्रतल से १६४६ मीटर की ऊँचाई पर है| भारत की स्वतंत्रता की लड़ाई में भी अल्मोड़ा के विशेष योगदान रहा है। शिक्षा, कला एवं संस्कृति के उत्थान में अल्मोड़ा का विशेष योगदान रहा है। भुवाली शहर से अल्मोड़ा ५५ किमी दूरी पर है।

 

almora images (19)

ब्राइट एण्ड कार्नर – यह अल्मोड़ा के बस स्टेशन से केवल २ किमी कब हूरी पर एक अद्भुत स्थल है। इस स्थान पर उगते हुए और डूबते हुए सूर्य का दृश्य देखने के लिए हजारों मिल से प्रकृति प्रेमी पर्यटक आते हैं।

almora images (18)

मजखाली – कालिक से केवल ७ किमी दुरी पर रानीखेत-अल्मोड़ा-मार्ग पर मजखाली का अत्यंत सौन्दर्यशाली स्थल है। मजखाली की धरती रमणीय है। यहाँ से हिमालय का मनोहारी हिम दृश्य देखने सैकड़ों प्रकृति-प्रेमी पर्यटक आते हैं।

almora images (2)

उपत – रानीखेत-अल्मोड़ा मार्ग पर ५ किमी पर उपत रमणीय स्थल है। उपत में नौ कोनों वाला विशाल गोल्फ का मैदान भी है। गोल्फ के शौकीन यहाँ गोल्फ खेलने आते हैं। रानीखेत समीप होने की वजह से सैकड़ों प्रकृति-प्रेमी और पर्वतरोही भी यहाँ आते हैं।

almora images (12)सिमतोला – यह अल्मोड़ा नगर से ३ किमी की दूरी पर ‘सिमतोला’ का ‘पिकनिक स्थल’ पर्यटको का स्वर्ग है। प्रकृति के अनोखे दृश्यों को देखने के लिए यहाँ हजारों पर्यटक आते हैं।

almora images (6)मोहनजोशी पार्क – इस जगह पर एक ताल का निर्माण किया गया है। मानव निर्मित ‘v’ आकार के इस ताल की सुन्दरता इतनी आकर्षक है कि पर्यटक घंटों तक इसी के पास बैठकर प्रकृति की अद्भुत छवि का आनन्द उठाते हैं। यहाँ का मोहक और शान्त वातावरण पर्यटकों के लिए काफी सुखद अनुभव है।

almora images (13)अल्मोड़ा के किले – अल्मोड़ा शहर के पूर्वी छोर पर ‘खगमरा’ नाम किला है। दूसरा किला अल्मोड़ा शहर के मध्य में है। इस किले का नाम ‘मल्लाताल’ है। तीसरा किला अल्मोड़ा छावनी में है, उसका नाम लालमण्डी किला है| इस किले से अल्मोड़ा के अनेक स्थलों का भव्य दर्शन होता हैं।

almora images (20)

गरम पानी – कैंची से आगे ‘गरमपानी’ नामक एक छोटा सा शहर है। यह शहर हल्द्वानी, काठगोदाम और अल्मोड़ा के बीच का ऐसा शहर है जहाँ पर यात्री चाय पीने और भोजन करने के लिए आवश्यक आते हैं। गरमपानी का पहाड़ी भोजन मशहूर है। यहाँ का रायता और आलू के हल्दी से रंग गुटके दूर-दूर तक मशहूर है। यहाँ से दूर-दूर तक पहाड़ी सब्जियाँ भेजी जाती हैं। पहाड़ी खीरे, मूली और अदरक आदि के लिए भी गरमपानी मशहूर है।

almora images (14)कालीमठ – यह अल्मोड़ा से ५ किमी की दूरी पर है। एक ओर हिमालय का रमणीय दृश्य दिखाई देता है और दूसरी ओर से अल्मोड़ा शहर की आकर्षक छवि मन को मोह लेती है। प्रकृतिप्रेमी, कला प्रेमी और पर्यटक इस स्थल पर घण्टों तक बैठकर प्रकृति का आनन्द उठाते हैं।

almora images (16)

नन्दा देवी मन्दिर – गढ़वाल कुमाऊँ की एक मात्र ईष्ट देवी भगवती नन्दा पार्वती है। नन्दा देवी की मूर्ती केले के पत्तों और केले के तनों से बनाई जाती है। अल्मोड़ा में नन्दा देवी के अलावा भैरवनाथ मन्दिर, बद्रीनाथ मन्दिर, रत्नेश्वर मन्दिर और उलका देवी मन्दिर मशहूर हैं। यहाँ ही जामा मस्जिद, मैथोडिस्ट चर्च और अंगलीकन चचें भी मशहूर है।

almora images (4)फेमस फ़ूड – अल्मोड़ा में पीली दाल, बासमती राइस, आलू पूरी, आलू टिक्की, चिकन करी, खोया सिंगोरी, बाल मिठाई और राबड़ी-फालूदा यह फेमस फ़ूड है| अल्मोड़ा में अलका होटल, अशोक होटल, अम्बैसेडर होटल, ग्रैंड होटल, त्रिशुल होटल, रंजना होटल, मानसरोवर, न्यू हिमालय होटल, नीलकंठ होटल, टूरिस्ट कॉटेज, रैन बसेरा होटल, प्रशान्त होटल और सेवॉय होटल आदि कई होटल हैं|जहाँ रहने की अच्छी व्यवस्था भी है।

almora images (5)अल्मोड़ा जाने के लिए काठगोदाम अंतिम रेल्वे स्टेशन है। काठगोदाम से अल्मोड़ा ९० किमी दुरी पर है। अल्मोड़ा से नैनीताल ६७ किमी, पिथौरागढ़ १०९ किमी और दिल्ली ३७८ किमी की दूरी पर है। इन स्थानों के लिए नियमित बस-सेवायें उपलब्ध है। अल्मोड़ा देहरादून से 368 किमी दूरी पर है| देहरादून से राज्य परिवहन की बसे भी अल्मोड़ा के लिए जाती है|

Leave a Reply