मुंबई में मराठा क्रांति मोर्चा, आरक्षण की मांग को लेकर।

132

3

राज्य के सभी शहरों में ‘मराठा क्रांति मोर्चा’ का आयोजन करने के बाद अब आज के दिन मुंबई में आयोजन हुआ है। मराठाओं को नौकरी में आरक्षण मिलने और अन्य मांगों को लेकर राज्य भर में ‘मराठा क्रांति मोर्चा’ का आयोजन पिछले कुछ महीनों में किया गया। अब मुंबई में महामोर्चा का आयोजन आज किया जा रहा है। इसमें मराठा समाज के लाखों लोग शामिल होने वाले हैं। इस मोर्चा के दौरान अनुचित घटना टालने के लिए मुंबई पुलिस सीसीटीवी और ड्रोन के जरिए मोर्चा पर नजर रखेगी। वहीं हजारों पुलिस कर्मी मोर्चा के दौरान तैनात होंगे। मुंबई पुलिस की पीआरओ ऱश्मि करंदीकर ने बताया कि, रैली में 1.5 से 2 लाख लोग शामिल हो सकते हैं। इसके लिए पुलिस सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया है। सात हजार पुलिस कर्वमी सुरक्षा में लगे हैं। वहीं प्रोस्टेटर्स पर ड्रोन और सीसीटीवी नेटवर्क के जरिए नजर रखी जाएगी।

1

मराठा क्रांति मोर्चा में ज्यादातर लोग अहमदनगर, पुणे, औरंगाबाद, मराठवाड़ा और विदर्भ से आने वाले हैं। मराठा क्रांति मोर्चा के आयोजकों में से एक, संजीव भोर पाटिल ने कहा, ‘हम इस साल मोर्चा यह भायकला में जीजामाता उद्यान से शुरू होकर आजाद मैदान पर खत्म होगा। मराठा मोर्चे की वजह से महानगर में ट्रैफिक जाम के चलते राज्य के शिक्षा विभाग ने दक्षिण मुंबई के स्कूलों को बंद रखने का फैसला लिया। राज्य के शिक्षामंत्री विनोद तावडे ने विधानभा में बताया कि स्कूली बच्चे ट्रैफिक जाम में न फंसे इस लिए एक दिन के लिए दक्षिण मुंबई के सायन, माहिम, दादर, वरली व भायखाले के स्कूलों को बंद रखने का फैसला लिया गया है। मुंबई में मराठा क्रांति मोर्चा शुरू हो गया है। इसके कारण आज सुबह से ही शहर के कई हिस्सों में जाम लग गया है। मोर्चे को लेकर मुंबई ट्रैफिक पुलिस ने पहले ही ऐहतियात बरतने की बात कह चुकी है।

2

मोर्चा के आयोजकों ने कहा, ‘पहले मराठा क्रांति मोर्चा का आयोजन पिछले साल 9 अगस्त को हुआ था, तब से, लगभग 57 जगहों पर मूक मार्च का आयोजन किया जाता है। ज्यादातर महाराष्ट्र के प्रमुख शहरों में और अन्य राज्यों के कुछ शहरों में जहां मराठों की उपस्थिति होती है। मुंबई महापालिका ने भी मराठा क्रांति मोर्चा में शामिल होने वाले लोगों को लिए मुफ्त में हेल्थ सुविधा उपलब्ध कराई है। वहीं पीने का पानी और टाॅयलेट्स की सुविधा जारी की है। मोर्चा में शामिल लोगों की असुविधा टालने के लिए सात जगहों पर मोबाइल टाॅयलेट्स, 8 जगहों पर पीने के पानी के टैंकर, और 6 जगहों पर डाॅक्टरों की टीम और एंबुलेंस तैनात की जाएगी। 

5

Leave a Reply