साध्वी यौन शोषण मामले में राम रहीम दोषी करार।

98

7पंचकूला की विशेष सीबीआई कोर्ट में साध्वी यौन शोषण मामले में फैसला सुनाते हुए डेरा सच्चा सौदा के चीफ गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिया है। उन्हें कितनी सजा होगी, इस पर फैसला 28 अगस्त को होगा। इस मामले पर बवाल एक गुमनाम चिट्ठी से शुरू हुआ था। चिट्ठी तात्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम लिखी गई थी। इसके साथ-साथ इसकी एक प्रति पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट को भेजी गई थी।

0-1चिट्ठी में किसी का नाम नहीं था सिर्फ आरोप लगाए गए थे कि पीड़िता पंजाब की रहने वाली है और सिरसा के डेरा सच्चा सौदा में 5 साल से एक साध्वी के रूप में रह रही है। चिट्ठी में आरोप लगाया गया था कि साध्वियों का शोषण किया जा रहा है और गंभीर आरोप लगाते हुए आपबीती भी बताई गई थी, जिसमें गुरमीत राम रहीम पर यौन शोषण के आरोप लगे थे।

6चिट्ठी में गुहार लगाते हुए सहायता की मांग की गई थी और कहा गया था कि मैं अपना नाम-पता लिखूंगी तो मुझे मार दिया जाएगा। इसकी किसी एजेंसी के माध्यम से जांच करवाई जाए। हमारा डॉक्टरी मुआयना करवाना चाहिए, ताकि अभिभावकों को पता चले यहां क्या चल रहा है।

1साल 2002 में गुरमीत राम रहीम पर साध्वियों के यौन शोषण के आरोप लगे थे। इसके बाद इसकी जांच हाईकोर्ट ने सीबीआई को सौंप दी थी। एक साध्वी ने राम रहीम पर यौन शौषण का आरोप लगाते हुए एक पत्र मीडिया, पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश, पीएम के नाम जारी किया था. इसके बाद हाई कोर्ट ने 24 सितंबर 2002 को सीबीआई को इस मामले की जांच का जिम्मा सौंपा था।

5साध्वी से रेप के मामले में पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत ने गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिया है। सजा का एलान 28 अगस्त को होगा। अदालत के इस फैसले के तुरंत बाद गुरमीत राम रहीम को हिरासत में ले लिया गया। गुरमीत राम रहीम को रोहतक जेल में रखा जाएगा। हालांकि, जैसे ही फैसला सुनाया गया, सेना की गाड़ी अदालत परिसर में पहुंची, ताकि उन्हें सेना के पश्चिमी कमांड की अस्थाई जेल में पहुंचाया जा सके।

Leave a Reply