गुटखा किंग रसिकलाल धारीवाल का निधन।

84

0

मशहूर इंडस्ट्रियलिस्ट और मानिकचंद ग्रुप के सीएमडी रसिकलाल धारीवाल का मंगलवार शाम पुणे के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में निधन हो गया। वे गुटखा किंग के नाम से मशहूर थे। 79 साल के धारीवाल की मौत मल्टी ऑर्गन फेलियर के चलते हुई। उन्हें 4 सितंबर को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। डॉक्टर और पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि उनके कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। कैंसर उनके पूरे शरीर में फैल गया था। जिसके बाद उनका निधन हो गया।

3

महाराष्ट्र में पुणे जिले के शिरुर में जन्मे धारीवाल को 20 मजदूरों के साथ बीड़ी की फैक्टरी पिता से विरासत में मिली। रसिकलाल जब 14 साल के थे, तब उनके पिता चल बसे। मां मदन बाई माणिकचंद से वे काफी प्रभावित रहे। उनकी मां ने उनका हर कदम पर साथ दिया। वे चाहती थीं कि उनका बेटा खुद अपने पैरों पर खड़ा हो जाए। बताया जाता है कि उनकी मां ने ही उन्हें काम करना सिखाया। 1958-59 में उन्होंने तंबाकू प्रोडक्ट्स का कारोबार फिर से शुरू किया।

1

कोंकण रीजन में उन्होंने सबसे पहला गैस प्लांट की शुरुआत की। साथ ही, ऑक्सीजिनेटेड ड्रिंकिंग वाटर के कारोबार को दुनियाभर में फैलाया। अनब्रेकेबल स्विचेस को देश में लॉन्च करने वाले धारीवाल ही थे। वे महाराष्ट्र के यंगेस्ट म्युनिसिपल काउंसिल प्रेसिडेंट भी रहे। अाज धारीवाल का कारोबार दुनिया के 50 से ज्यादा देशों में फैला हुआ है। आज उनके ग्रुप का कारोबार पैकेजिंग, रोलर फ्लोर मिल्स, रियल एस्टेट, विंड एनर्जी, पैकेज्ड ड्रिंकिंग वाटर आदि तक फैला है।

5

बता दें वे लग्जरी गाड़ियों के बड़े शौकीन थे। मारुति 800 से लेकर लांसर, स्कोडा, ओपरा, मिनी कूपर और मेबैक बेशकीमती गाड़ियों के देश में सबसे पहले खरीददार वे ही रहे हैं। उन्होंने दो शादियां कीं। पहली पत्नी से बेटा प्रकाश है, जो उनके साथ ही सारा कारोबार देखता है। कारोबार पुणे से 60 किमी दूर सरादवाड़ी में है। बेटी जाह्नवी रसिकलाल की दूसरी पत्नी शोभा से है।

4

Leave a Reply