सुब्रत रॉय को क्यों जेल जाना पड़ा?

97

सहारा इंडिया परिवार के चेयरमैन सुब्रत रॉय के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में केस चल रहा है| दरअसल मामला ये है की सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉरपोरेशन लिमिटेड और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड ने रियल एस्टेट में निवेश के नाम पर करीब 3 करोड़ से ज्यादा निवेशकों से 24 हजार करोड़ रुपए जुटाए थे।  इसके बाद साल 2009 में सहारा प्राइम सिटी ने अपना आईपीओ लाने के लिए सेबी के पास दस्तावेज जमा कराए, साल 2010 में ही सेबी ने इन दोनों कंपनियों में जांच के आदेश जारी कर दिए। इन दोनों कपनियों में काफी अनियमितताएं मिलने के बाद सेबी और सहारा के बीच का विवाद बढ़ता चला गया और कोर्ट तक पहुंच गया। सुप्रीम कोर्ट के पूर्व फैसले के अनुसार सहारा की इन दोनों कंपनियों को निवेशकों के 36 हजार करोड़ रुपए लौटाने हैं।  

subrata-roy-2

दरअसल आयकर विभाग ने नवंबर 2014 में सहारा इंडिया के ठिकानों पर छापेमारी की थी। इस छापेमारी के दौरान विभाग को एक डायरी भी मिली थी, जिसमें कुछ नेताओं के नाम भी थे और उन्हें पैसे देने के संबंध में जानकारी भी दर्ज थी। जांच कर रहे आयोग ने इस डायरी को सबूत के तौर पर मानने से भी मना कर दिया है। छापे के दौरान कंपनी से 137.58 करोड़ रुपये बरामद हुए थे जिस पर अब टैक्स आरोपित किया जा रहा है।

subrata-roy-4

इससे पहले की सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने सहारा समूह से कहा था कि अगर वह 17 अप्रैल तक सेबी-सहारा रिफंड खाते में 5,092.6 करोड़ रुपए जमा नहीं कराता है, तो उसकी पुणे की एंबी वैली की नीलामी की जाएगी। कोर्ट ने सहारा समूह को यह रकम जमा कराने का निर्देश दिया था। सहारा चाहता था कि इस समय सीमा को आगे बढ़ाया जाए लेकिन कोर्ट इसके लिए तैयार नहीं हुआ।

subrata-roy-5

सेबी : सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ़ इंडिया है| सेबी का प्रमुख उद्देश्य भारतीय स्टॉक निवेशकों के हितों का उत्तम संरक्षण प्रदान करना और प्रतिभूति बाजार के विकास तथा नियमन को प्रवर्तित करना है।

subrata-roy-3

आईपीओ : जब एक कंपनी अपने सामान्य स्टॉक या शेयर पहली बार जनता के लिए जारी करती है तो उसे आइपीओ अथवा ” सार्वजनिक प्रस्ताव ” कहा जाता है|

 subrata-roy-6

Leave a Reply