इंसान और जानवर की बेमिसाल दोस्ती !!!

5089

सबसे पहले इनसे मिलिए | ये है कंबोडिया में रहने वाले छोटे से बच्चे ओर्न संबत का। ओर्न कोमरियम नाम के अजगर का ब्रेस्ट फ्रेंड है। ये अजगर 16 फीट लंबा है और ओर्न के साथ उनके घर पर ही रहता है। वो ओर्न के साथ तब से है जब वो सिर्फ 3 महीने का था।

best-bonds_landscape_1458367606

 

कई लोग होते हैं जिन्हें छत या समुद्र के किनारे या फिर सड़कों पर जानवरों को कुछ ना कुछ खिलाते रहने का शौक होता है। 8 साल की बच्ची गाबी मन्न वॉ‌‌‌शिंगटन में रहती है और हर दिन कौओं को कुछ ना कुछ खिलाती rehti हैं। इसके बदले में ये कौवें उसके लिए हर दिन कोई ना कोई चीज गिफ्ट में लाते जरूर हैं। फिर चाहे वो कोई बटन हो या फिर प्लास्टिक का टुकड़ा, हर दिन वो कौवें भी अपने मुंह में कुछ ना कुछ लेकर आते हैं और गाबी को देते हैं।

best-bonds_landscape_1458367806

 

1969 में जॉन रेंडल और ऐस बर्ग ने एक शेर के बच्चे की जान बचाई थी। इन दोनों ने इस शेर के बच्चे को अपने लंदन वाले घर में रखा और पाला। जब उन्हें लगा कि अब उसे जंगलों में छोड़ देना चाहिए, तो वो उसे अफ्रीका के घने जंगलों में छोड़ आए। कई सालों बाद इन दोनों दोस्तों को लगा ‌कि उन्हें उस शेर के बच्‍चे से जाकर मिलना चाहिए जो अब तक बड़ा हो गया होगा। उन्हें विश्वास नहीं हुआ ‌कि जैसे ही वो जंगल पहुंचे, उस शेर ने उन्हें पहचान लिया और फिर ऐसे मिला जैसे कई सालों से रोज मिलता है।

best-bonds_landscape_1458367852

 

जानवरों की मदद कीजिए और बहुत जादा संभावनाएं हैं कि वो आपको भूलेंगे नहीं। जी हां, ये भी एक ऐसेही कहानी है जहां एक ब्रिटिश पर्यवक्षक डामियन एसपिलन गोरिल्ला को बचाने और उन्हें जंगलों में छोड़कर लाने का काम करते हैं। 5 साल पहले उन्होंने एक गुरिल्ला को बचाकर जंगल में छोड़ा था। 2014 में उन्होंने गेबन के एक जंगल रिजर्व में जाकर उसी गुरिल्ला से मिलने की सोची। उन्हें हैरत हुई इस बात पर कि जब वो वहां गए तब वो गुरिल्ला खुद ही उनके पास आया और गले लगाकर उनकी गोद में ऐसे बैठा जैसे रोज ही बैठता है।

best-bonds_landscape_1458367885

 

कई बार जानवर भी लोगों की जान बचाने का काम करते हैं। 5 साल पहले तक एरिक ओग्रे का वजन काफी बढ़ गया था। उन्हें ब्लड प्रेशर के साथ टाइप-टू डाइबिटीज की भी शिकायत हुई। इसके बाद उन्हें डॉक्टरों ने बताया कि अगर वो बहुत दवाइयों का सहारा नहीं लेना चाहते हैं, तो एक कुत्ते को पाल लें। उसके साथ खूब घूमें और रहें। उन्होंने पीटी नाम के एक कुत्ते को गोद ले लिया। इसके बाद एरिक ने कुत्ते की देखभाल करते हुए खुद को बदल लिया। उसे घुमाते हुए वो खुद पतले हुए और लोगों से मोटापे के कारण मिलने से कतराते थे, जो अब सोशल हो गए। उन्हें फिट करने के बाद 1 दिन पीटी नहीं रहा। एरिक का आज भी लगता है कि वो उसे सिर्फ बदलने के लिएही आया था।

best-bonds_landscape_1458367920

 

5 साल की काइली ब्रॉउन को लगता है कि वो एक बत्तख की मां है। वो उसे अपने साथ रखती है और रोज उसे तालाब में भी ले जाती हे

best-bonds_landscape_1458367956

रैंबो नाम का ये छोटा सा मगरमच्छ साइन लैंग्वेज पहचानता है। जन्म से 11 साल तक पालने के बाद रैंबो, मैरी थॉर्न के लिए उनके परिवार का हिस्सा बन गया था। पर कुछ समय बाद वो इतना बड़ा हो गया कि उसे घर में पालने की इजाजत इनके देश की सरकार नहीं दी और उस मैरी थॉर्न को वापस जंगल मैं छोड़ना पड़ा ।

best-bonds_landscape_1458368041

Leave a Reply