छोटी इलायची के बड़े फायदे

623

भारतीय रसोई में इलायची के स्वाद की अपनी जगह है। इलायची को खुशबू व स्वाद के लिए इस्तेमाल किया जाता है। मीठे व्यंजनों में इसका फ्लेवर तो लाजवाब लगता ही है, इलायची वाली चाय भी खूब पसंद की जाती है। वैसे इन खूबियों से इतर सेहत के लिए भी यह लाजवाब है।

 

1

इलायची सुंगधित होने के कारण इसका इस्तेमाल मुख शुद्धि के रूप में किया जाता है। त्यौहारों पर मीठा बनाने के लिए मसालों तथा औषधियों में भी इसका अधिक उपयोग होता है।

 

2

इलायची पेट में गैस और एसिडिटी में राहत देती है। यदि खाना खाने के बाद एसिडिटी हो तो आप तुंरत इलायची खाएं। सर्दी और छींक होने पर एक छोटी इलायची, एक टुकड़ा अदरक, लौंग तथा पाँच तुलसी के पत्ते एक साथ पान में रखकर खाएँ।

 

6
इलायची दाना, पीपरामूल और पटोलपत्र सम भाग भाग में लेकर चूर्ण बनाएं। 2-4 ग्राम पाउडर घी के साथ सुबह शाम चाटने से कफजन्य हृदय रोग से राहत मिलती है। मुंह में छाले हो गए हों तो इलायची पाउडर को शहद में मिलाकर छालों पर लगाने और लार टपकानेसे छाले ठीक हो जाते हैं।

 

7

आधा-आधा ग्राम इलायची और सोंठ के पाउडर में 1 ग्राम शहद मिलाकर चाटने से अथवा इलायची के तेल 4-5 बूंदें शक्कर के साथ लेने से कफजन्य खांसी दूर हो जाती है।

 

4

इलायची दानों का पाउडर और शक्कर सम भाग में लेकर उसमें थोडा एरंडी का तेल मिलाकर 5 ग्राम की मात्रा में प्रतिदिन सुबह सेवन करने से आंखों को ठंडक पहुंचती है और आंखों की ज्योती बढती है।

सावधानी – रात को इलायची न खायें, इससे खट्टी उकारें आती है। महिलाओं के लिए इसके अधिक सेवन से गर्भपात होने की भी सम्भावना रहती है।

Leave a Reply