सबसे यंग एथलीट सिंधू ने हारकर भी रचा इतिहास।

3278

21 साल की स्टार शटलर पीवी सिंधू ने शुक्रवार रात इतिहास रच दिया। ओलिंपिक 1896 से खेले जा रहे हैं। भारत 1924 से ओलिंपिक में महिला एथलीट्स भेज रहा है। उस लिहाज से सिंधू 92 साल में सिल्वर जीतने वाली पहली महिला हैं। वे ओलिंपिक मेडल जीतने वाली सबसे कम उम्र की एथलीट भी बन गई हैं। सिंधू ने 8 साल की उम्र में खेलना शुरू किया। 18 साल की उम्र में वर्ल्ड चैम्पियनशिप में ब्रॉन्ज जीतकर लाईं। इसी उम्र में उन्हें अर्जुन अवॉर्ड मिला। 20 साल की उम्र में वे पद्मश्री के लिए चुनी गईं और 21 साल की उम्र में ओलिंपिक मेडल जीतकर लाई हैं।

कल रियो ओलिंपिक में बैडमिंटन के फाइनल में स्पेन की कैरोलिना मारिन ने जैसे ही गोल्ड जीता, सिंधू खेल भावना दिखाते हुए उनके पास गईं और उन्हें गले से लगा लिया। सिंधू ने पहला सेट 21-19 से जीता, जबकि कैरोलिना ने दूसरा सेट 21-12 से अपने नाम किया। मैच बराबरी पर होने के बाद तीसरे सेट में दोनों के बीच जोरदार टक्कर देखने को मिली। कैरोलिना मारिन ने तीसरा सेट 15-21 से अपने नाम कर लिया। 12 साल बाद ओलिंपिक में बैडमिंटन का 80 मिनट लंबा मुकाबला देखा गया।

 

1

 

2

 

3

 

4

 

5

 

6

 

9

 

8

 

10

 

11

 

12