खून के आंसू रोने पे है मजबूर ये लोग|

3996

ये विश्व असाधारण लोगों से भरा हुआ है | ताकि ऐसे है जो प्राकृतिक विषमताओं के कारण असाधारण ज़िन्दगी जीने पे मजबूर है | इनका जीवन कठिनाईयों से भरा हुआ है| इन्हे हर दिन हरे के मोड़ पे कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है| हमने बचपन मैं अपने बड़े बुजुर्गों से बहुत सी कहावतें सुनी है, लेकिन आश्चर्य तब होता जब इन कहावतों से कुछ बाते सच्च बन कर हमारे सामने आती है | ऐसी ही एक कहावत सबने सुनी होगी “खून के आंसू रोना, इस कहावत की सच्चाई दुनिया के सामने आई है | दुनिया में कुछ ऐसे लोग सामने आये है जो रोते है तो उनकी आँखों से आंसू नही बल्कि खून निकलता है l यह बीमारी दुनिया कई लोगो को हो चुकी है पर इस बीमारी का इलाज मेडिकल साइंस अब तक नहीं खोज पाया है |

आइये हम आपको ऐसे ही कुछ लोगो के बारे में बताते है जो खून के आंसू रोते है

 

 

 

जेन मोथिबे1 जेन मोथिबे

जेन मोथिबे नाम की यह 15 साल की एक स्कूल गर्ल है, जो कि दक्षिण अफ्रीका के केटलहॉन्ग शहर में रहती है। इस लड़की की आंखों से खून आता है। जेन के मुताबिक जब वह स्कूल में होती है तो उस दौरान उसकी आंखों से खून आता है। जिसके कारण स्कूल के अन्य बच्चे भी डर जाते हैं। इस बीमारी का इलाज उसकी मां ने कई जगह कराया है, पर बीमारी का कोई कारण पता नहीं चल सका है।

 

ट्विंकल द्विवेदी2 ट्विंकल-द्विवेदी

ट्विंकल द्विवेदी भारत के लखनऊ की रहने वाली हैं और इसी प्रकार की बीमारी से परेशान हैं। उसकी आंखों सहित शरीर के कई हिस्सों से खून आता है। पहली बार ऐसा तब हुआ जब ट्विंकल 14 साल की थी। पहले उसकी आंखों से खून आया, पर बाद में उसको बिना किसी घाव के गर्दन, हेयरलाइन और तलवे आदि से भी ब्लीडिंग होने लगी। इस बीमारी के कारण ट्विंकल अपना स्कूल अटेंड नहीं कर सकती हैं और उसका इलाज करने वाले डॉक्टर्स भी इस बीमारी को लेकर परेशान हैं।

 

लिन्नी इकेडा 3 लिन्नी इकेडा

लिन्नी इकेडा, अमेरिका के हवाई राज्य की रहने वाली हैं और वो भी इस बीमारी से जूझ रही हैं। 2008 में सबसे पहले लिन्नी को इस बीमारी के लक्षण दिखने शुरू हुए थे। 2 साल बाद लिन्नी की जीभ से भी खून आने लगा। इसके लिए लिन्नी ने 11 बार सर्जरी कराई, पर कोई फ़ायदा नहीं हुआ। लिन्नी के मुंह और आंखों से खून आता है।

 

मार्नी हार्वे4 मार्नी हार्वे,

मार्नी हार्वे, ब्रिटेन की रहने वाली हैं और उनको भी इसी प्रकार की बीमारी है जिसमें उनकी आंखों से खून आता है। शुरू में खून सिर्फ आंखों से ही आता था, पर धीरे-धीरे यह शरीर के अन्य अंगों से भी आने लगा। मार्नी इस बीमारी की चपेट में 2013 में आई थीं। इसके बाद उसने अपना काफी इलाज कराया और बहुत से टेस्ट कराये पर इस बीमारी का पता नहीं लग सका।

 

केल्विनो5 केल्विनो

केल्विनो, अमेरिका के टेनेसी राज्य का रहने वाला है। वह कई साल से इस बीमारी से जूझ रहा है। कई बार तो एक-एक घंटे तक उसकी आंखों से ब्लीडिंग होती रहती है। केल्विन की मां का कहना है की वह उसको 15 स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स को दिखा चुकी हैं पर अभी तक बीमारी का कोई पता नहीं लग पाया है।

Leave a Reply